तेज खबरेंमध्यप्रदेश

रहम की भीख मांगते रहे लड़के-लड़की, बांध कर 6 युवकों ने किया गैंगरेप दोस्त के साथ मंदिर आई एक किशोरी के साथ आधा दर्जन युवकों ने दरिंदगी की है।

संवाददाता:- प्रमोद कुमार जयसवाल

 

मध्य प्रदेश/रीवा/नईगढ़ी/:- दोस्त के साथ मंदिर आई एक किशोरी के साथ आधा दर्जन युवकों ने दरिंदगी की है। कूड़ा में किशोरी को बंधक बनाकर उन्होंने गैंगरेप किया। बाद में उसके साथ मारपीट कर पायल व मोबाइल भी छीनकर भाग गए। इस खौफनाक घटना की सूचना मिलते ही तत्काल पुलिस मौके पर पहुंच गई। घटना को अंजाम देने वाले आरोपी फरार बताए जा रहे है जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। रोंगटे खड़े कर देने वाली यह नईगढ़ी थाने के अष्टभुजी माता मंदिर की है।

यहां पर एक किशोरी अपने दोस्त के साथ दोपहर घूमने के लिए आई थी। मंदिर में दर्शन करने के बाद वे समीप ही बैठकर बातचीत कर रहे थे। उसी समय आधा दर्जन युवक वहां पहुंच गए। आरोपी उनको धमकाने लगे और युवक के सामने किशोरी को घसीटकर कूड़ा के नीचे तरफ ले गए। इस दौरान एक-एक करके आधा दर्जन युवकों ने पीडि़ता के साथ दरिंदगी की। करीब एक घंटे से ज्यादा समय तक आरोपी उनको बंधक बनाए हुए थे। उनके चंगुल में फंसी किशोरी व उसका दोस्त आरोपियों से रहम की भीख मांग रहे थे लेकिन उन्होंने कोई रहम नहीं दिखाया। आरोपियों की दरिंदगी सिर्फ यही तक नहीं रुकी। घटना के बाद उन्होंने किशोरी से मारपीट कर मोबाइल, पायल तक छीन ली। बाद में उनको धमकाते हुए मौके से फरार हो गए। बदहवास पीडि़ता व उसका दोस्त किसी तरह बाहर निकले और पुलिस को सूचना दी गई। तत्काल एसडीओपी नवीन दुबे सहित नईगढ़ी पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने उनके परिजनों को जानकारी दी और उनको लेकर आ गई। दरिंदगी की शिकार किशोरी की हालत खराब थी जिस पर तत्काल उसको इलाज के लिए अस्पताल भिजवा दिया गया। आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने धारा 376डी, 395, 506 व पाक्सो एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है।

 

आरोपियों के भय रिपोर्ट करने को तैयार नहीं थी पीडि़ता, पुलिस की समझाईश के बाद मानी

इस खौफनाक घटना का शिकार हुई पीडि़ता आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट लिखाने तक को तैयार नहीं थी। आरोपियों ने घटना किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी। बाद में पुलिस ने उसको समझाईश दी। खुद एसडीओपी ने उससे बात की और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिलाया। उसके बाद पीडि़ता शिकायत दर्ज करवाने को राजी हुई। पुलिस ने तत्काल प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है।

 

6 की संख्या में थे आरोपी, दो की पहचान

इस खौफनाक घटना अंजाम देने वाले आरोपियों की संख्या 6 बताई जा रही है जो स्थानीय है। पुलिस ने दो आरोपियों की पहचान शिवम यादव व विद्यासागर बहेलिया के रूप में की है जो फिलहाल बताए जा रहे है। पुलिस आरोपियों की तलाश में गांवों में दबिश दे रही है। पुलिस ने पूरे इलाके में सर्चिंग शुरू कर दी है और देर रात तक आरोपियों को हिरासत में ले लेने की उम्मीद पुलिस जता रही है।

 

कई अन्य लोगों को बनाया होगा शिकार, बदनामी के डर से नहीं की रिपोर्ट

आरोपियों ने जिस अंदाज से इस खौफनाक घटना को अंजाम दिया है उससे उम्मीद जताई जा रही है कि उन्होंने कई अन्य पीडि़ताओं के साथ इसी तरह दरिंदगी की है। अष्टभुजी मंदिर व उसके पास स्थित कूड़ा में काफी संख्या में लड़के-लड़कियां घूमने के लिए आते है। आरोपियों ने कई अन्य लड़कियों को भी अपनी हवस का शिकार बनाया होगा लेकिन बदनामी के डर से लड़कियों ने रिपोर्ट नहीं की। आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस उनसे अन्य घटनाओं के संबंध में भी पूछताछ करेगी।

 

क्या कहा इन्होंने

एक किशोरी अपने दोस्त के साथ अष्टभुजी मंदिर आई थी। यहां पर आधा दर्जन युवकों ने उनको पकड़ लिया और किशोरी के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है। आरोपी उसके साथ मारपीट कर मोबाइल, पायल छीन ले गए है। शिकायत मिलने पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है। 6 आरोपी घटना में शामिल थे जिसमें दो की पहचान कर ली गई है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम हर संभावित ठिकानों में दबिश दे रही है।

नवीन दुबे, एसडीओपी मऊगंज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close